Data Communication and Networking tutorial in Hindi

Data communication

Data communication कुछ सरल शब्दों में सीखे तो इसकी परिभाषा इस प्रकार है किन्हीं दो डिवाइसेज के बीच में Data लेनदेन को Data communication कहते हैं

What is data in hindi?

अब बात आती है कि डाटा क्या होता है तो हर इंसान and डिवाइसेज के लिए डाटा अलग अलग तरीके का होता है कंप्यूटर की भाषा में डाटा की परिभाषा को समझे तो कोई भी सूचना या सूचना के कलेक्शन को Data कहते हैं कंप्यूटर मशीन के लिए बाइनरी कोड ही Data है टेक्स्ट वीडियो ऑडियो ग्राफिक्स पिक्चर्स Data के अंदर आते हैं

What is communication in Hindi?

Communication को समझोता कह सकते हैं किन्ही भी दो डिवाइसेज या लोगों के बीच में जो समझने की शक्ति होती है उसे कम्युनिकेशन कहते हैं लेकिन कंप्यूटर साइंस में इसकी परिभाषा इस प्रकार है किन्ही दो डिवाइसेज के बीच में डाटा के लेनदेन को data communication कहते हैं

Data Communication Component in Hindi

जब भी डाटा कम्युनिकेशन होता है तो 5 एलिमेंट मुख्य काम करते हैं

  1. Sender
  2. Receiver
  3. Transmission Medium
  4. Message
  5. Protocols
Data Communication Component in Hindi
Data Communication Component in Hindi
1.सेंडर(Sender):- जो डाटा को भेजता है वह Sender कहलाता है जिसको सोर्स भी कह सकते जहां से डाटा जनरेट किया जाता है
2.रिसीवर(Receiver):- Sender द्वारा भेजे गए डाटा को Receive करता है या प्राप्त करता है उसे रिसीवर(Receiver) कहते हैं या डेस्टिनेशन कहते हैं
3.मैसेज(Message):- इंफॉर्मेशन वह मैसेज या डाटा होता है जो Sender रिसीवर को भेजता है यह टेक्स्ट ऑडियो वीडियो ग्राफिक्स फोटो पिक्चर आदि हो सकती है
4.ट्रांसमिशन मीडियम(Transmission Medium):- वह रस्ता या वह डिवाइस जिसकी सहायता से Sender रिसीवर को डाटा भेजता है
5.प्रोटोकॉल(Protocols):- प्रोटोकॉल का मतलब यहां नियम से है Sender और रिसीवर दोनों ही समान रूल फॉलो करते है

Data communication channel (डाटा कम्युनिकेशन चैनल) in Hindi

डाटा कम्युनिकेशन चैनल वह रास्ता होता है जहां पर डाटा का लेन-देन होता है कम्युनिकेशन चैनल या ट्रांसमिशन मीडियम दो तरह की हो सकते हैं physical medium and logical medium Physical medium  के अंतर्गत तारों का यूज होता है logical medium में circuit switching यूज होता है

Types of data communication channel (डाटा कम्युनिकेशन चैनल के प्रकार)

  1. Simplex (सिंपलेक्स)
  2. Half duplex (अर्द्ध डुप्लेक्स)
  3. Full duplex (फुल डुप्लेक्स)
Types of data communication channel in hindi
Types of data communication channel in hindi
1.Simplex (सिंपलेक्स):- यह एक तरफ यह रास्ता होता है जिसमें अकेला sender ही रिसीवर को डाटा भेज सकता है लेकिन रिसीवर sender को डाटा नहीं भेज सकता इसका उदाहरण रेडियो है
रेडियो के अंदर रेडियो यूजर बैंडविथ को यूज करके डाटा सुन सकता है लेकिन भेज नहीं सकता
2.Half duplex (अर्द्ध डुप्लेक्स):- इस डुप्लेक्स में सेंडर रिसीवर को और रिसीवर सेंडर को डाटा भेज सकता है लेकिन एक ही समय में दोनों डाटा नहीं भेज सकते यदि सेंडर रिसीवर को डाटा भेजता है तो रिसीवर डाटा को प्राप्त कर सकता है लेकिन उसी समय भेज नहीं सकता जब सेंडर कंप्लीट डाटा भेज देता है तो रिसीवर सेंडर को डाटा भेज सकता है इसका उदाहरण वॉकी टॉकी है
3.Full duplex (फुल डुप्लेक्स):- इस डुप्लेक्स में सेंडर रिसीवर को रिसीवर सेंडर को एक ही समय में डाटा भेज सकता है इसका उदाहरण स्मार्टफोन है

What is Network and Networking in Hindi

नेटवर्क को आसान शब्दों में समझने की कोशिश करें तो बहुत सारी कंप्यूटर अगर एक साथ जुड़े हैं तो उसे नेटवर्क कह सकते हैं पुराने समय में नेटवर्क के रूप में टेलीफोन लाइन का यूज किया जाता था लेकिन वर्तमान में इंटरनेट का यूज नेटर के रूप में किया जाता है जो हमारी कंप्यूटर को वर्ल्ड वाइल्ड कनेक्ट करता है

Network criteria in hindi

नेटवर्क की परफॉर्मेंस नीचे दिए गए मापदंडों पर निर्भर करती है
  1. Performance tool
  2. Reliability
  3. Security
1.Performance tool:- Performance tool नीचे दी गई बातें पर निर्भर करता है
  • Number of users
  • Type of transmission medium
  • Hardware
  • Software
2.Reliability:- Reliability नीचे दी गई बातें पर निर्भर करती है
  • Frequency of failure
  • Recovery time of failure
3.Security:- Security नीचे दी गई बातें पर निर्भर करती है
  • Unauthorized access
  • Virus

नेटवर्क के प्रकार

आज के टाइम में नेटवर्क को बहुत सारे प्रकार में बांट दिया गया है लेकिन मुख्यतः तीन प्रकार के ही नेटवर्क है
  1. LAN – Local area network (लोकल एरिया नेटवर्क)
  2. MAN – Metropolitan Area Network (मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क)
  3. WAN – Wide area network (वाइड एरिया नेटवर्क)
1.LAN – Local area network (लोकल एरिया नेटवर्क):- लोकल एरिया नेटवर्क छोटे क्षेत्र के लिए यूज किया जाता है यह नेटवर्क का सबसे साधारण रूप है यह तेज कम्युनिकेशन चैनल प्रदान करता है डाटा ट्रांसमिशन के लिए. लोकल एरिया नेटवर्क  गाइडेड ओर वाइल्ड मीडियम का यूज करता है डाटा ट्रांसमिशन के लिए. लोकल  एरिया नेटवर्क कॉस्ट इफेक्टिव नेटवर्क है इसका निर्माण  सिंगल बिल्डिंग और ऑपरेशन हाउस के लिए किया गया
LAN – Local area network(लोकल एरिया नेटवर्क) की विशेषताएं
  • यह छोटे क्षेत्र को कवर करता है जैसे स्मॉल रूम स्माल ऑफिस एंड सिंगल बिल्डिंग
  • लोकल एरिया नेटवर्क मैं यूजर की संख्या लिमिटेड होती है
  • इसकी ट्रांसमिशन स्पीड बहुत तेज होती है
  • लोकल एरिया नेटवर्क साधारण गाइडेड ट्रांसमिशन मीडियम और इथरनेट टेक्नोलॉजी का यूज करता है
  • मेट्रोपोलिटन एरिया नेटवर्क और वाइड एरिया नेटवर्क से कम सिक्योरिटी की आवश्यकता लोकल एरिया नेटवर्क को होती है
  • लोकल एरिया नेटवर्क कार रिंग बस टोपोलॉजी का यूज करता है
2.MAN – Metropolitan Area Network (मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क):- मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क का भौगोलिक क्षेत्र लोकल एरिया नेटवर्क की तुलना में ज्यादा और वाइड एरिया नेटवर्क की तुलना में कम होता है यह डाटा ट्रांसमिशन के लिए गाइडेड और अनगाइडेड मीडियम का यूज करता है
MAN – Metropolitan Area Network (मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क) की विशेषताएं

  • मेट्रोपोलिटन एरिया नेटवर्क का एरिया 5 से 50 km तक का होता है
  • इसमें यूजर की संख्या लिमिटेड होती है
  • यह डाटा ट्रांसमिशन के लिए गाइडेड और अनगाइडेड मीडियम का यूज करता है
  • मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क एक शहर या बड़े कैंपस के लिए किया जाता है
3. WAN – Wide area network (वाइड एरिया नेटवर्क):- वाइड एरिया नेटवर्क का भौगोलिक एरिया बहुत बड़ा होता है इसका उसे पुरे संसार जो जोड़ने के लिए किया जाता है इसकी स्पीड LAN और MAN से कम होती है
इंटरनेट इसका उदहारण है

Network LAN Technologies

नेटवर्किंग के विस्तार में अलग अलग नेटवर्क टाइप्स के हिसाब से अलग अलग टेक्नोलॉजी का निर्माण किया गया यह पर हम लोकल एरिया नेटवर्क के बारे में सीखे गे लोकल एरिया नेटवर्क में कन्सेशन के लिए गाइडेड और बिना तार के मध्यम का इस्तेमाल किया जाता है।
लोकल एरिया नेटवर्क टेक्नोलॉजी इस प्रकार है

Ethernet (ईथर नेट)

थर नेट का विस्तार यूज़ IEEE Standerds 802.3 के अंतर्गत किया गया ईथर नेट का यूज़ इस लिए किया जाता है समझने में और रखरखाव, लागु करना बहुत आसान है इस नेटवर्क को लागू करने में काम लागत लगती है।
ईथर नेट के प्रकार
  • फ़ास्ट ईथर नेट:- डाटा ट्रांसफर करने की स्पीड 100mb/s
  • गीगाबिट ईथरनेट :- डाटा ट्रांसफर करने की स्पीड 1gb/s
  • 10 गीगाबिट ईथरनेट:- डाटा ट्रांसफर करने की स्पीड 10gb/s

1 thought on “Data Communication and Networking tutorial in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *